जयराम सरकार के जिस फैसले की वजह से टले थे शिमला नगर निगम के चुनाव, CM सुक्खू ने उसे पलटा

 हिमाचल प्रदेश में सुक्खू सरकार (Sukhu Govt) के गठन को 45 दिन का समय हो गया है. ऐसे में सरकार ने जयराम राज में हुए कई फैसलों को पलट दिया है. अब सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू ने जयराम सरकार (Jairam Govt) के एक और फैसले को बदला है. जयराम के जिस फैसले की वजह से हिमाचल प्रदेश के शिमला नगर निगम (Shimla MC Elections) के चुनाव टल रहे थे, उसे अब सुक्खू सरकार ने रद्द कर दिया.



दरअसल, नगर निगम चुनाव से पहले जयराम सरकार ने शिमला में 7 नए वार्डों का गठन किया था. इसी फैसले को सुक्खू सरकार ने रद्द कर दिया है. सुक्खू सरकार ने फैसला बदलते हुए आदेश जारी किए हैं. ऑर्डर के अनुसार, अब 41 वार्डों को घटाकर दोबारा 34 कर दिया गया है. पूर्व जयराम सरकार ने निगम एक्ट में संशोधन किया था और शिमला नगर निगम के वार्डों की संख्या बढ़ाकर 41 कर दी थी.


जानकारी के अनुसार, जयराम सरकार ने शिमला नगर निगम में 7 नए वार्ड जोड़े थे, इनमें शांकली, लोअर खलिनी, लोअर विकासनगर, ब्रोकहोस्ट, कुसुम्पटी-2, ढींगूधार, लोअर कृष्णा नगर को नया वार्ड बनाया था. अब इन वार्ड को नया अध्यादेश लागू कर खारिज कर दिया गया है. ऐसे में अब शिमला के 34 वार्डों में आरक्षण रोस्टर नए सिरे से बनेगा. साथ ही वोटर लिस्ट भी नए सिरे से तैयार होगी.

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad