कौन होगा हिमाचल का मुख्यमंत्री, कांग्रेस आलाकमान करेगा तय, बैठक में प्रस्ताव पारित

 हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की नवनिर्वाचित सरकार में मुख्यमंत्री कौन बनेगा, इसका फैसला पार्टी आलाकमान लेगा। पार्टी मुख्यालय राजीव भवन शिमला में हुई कांग्रेस विधायक दल की बैठक में यह सिंगल लाइन प्रस्ताव पारित किया गया। यह प्रस्ताव कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को भेजा गया है। शनिवार को रिपोर्ट आलाकमान को भेजी जाएगी। दिन भर चले हंगामे के बाद शुक्रवार रात 10:00 बजे विधायक दल की बैठक में इस प्रस्ताव पर सभी मौजूद 40 विधायक सहमत हुए। बैठक में किसी भी नाम पर सहमति बनती नहीं दिखी तो यह फैसला लिया गया।

निवर्तमान कांग्रेस विधायक दल के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने एक सिंगल लाइन प्रस्ताव हाईकमान को भेजकर उन्हीं पर फैसला छोड़ने की बात की, जिसका चुनाव प्रचार समिति के अध्यक्ष सुखविंद्र सुक्खू ने समर्थन किया। इस बैठक में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस के चुनाव पर्यवेक्षक भूपेश बघेल, हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, प्रदेश मामलों के प्रभारी सांसद राजीव शुक्ला, सह प्रभारी गुरकीरत सिंह कोटली, संजय दत्त, तजेंद्र पाल बिट्टू और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद प्रतिभा सिंह विशेष रूप से मौजूद रहीं। बैठक में हर विधायक से बारी-बारी चुनाव पर्यवेक्षकों ने बात की। इनसे सीएम पद के लिए दो-दो नाम पूछे गए। उनके गुण और अवगुण भी पूछे। फिर इस बैठक में सीएलपी की सहमति के बाद एक सिंगल लाइन प्रस्ताव पारित कर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को भेजने का निर्णय हुआ। 


Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad