जनमंच : 1609 शिकायतें व मांगें प्राप्त, अधिकांश मामलों का हुआ निपटारा

हिमाचल प्रदेश के 11 जिलों के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में आज जनमंच कार्यक्रम आयोजित किए गए। इन जनमंच में 1609 शिकायतें व मांगें प्राप्त हुई, जिनमें से अधिकांश मामलों का मौके पर ही निपटारा किया गया। प्रशासन द्वारा जनमंच के दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सभी आवश्यक सुरक्षा उपायों का सख्ती से पालन किया गया।
जिला मण्डी
जल शक्ति मंत्री श्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने जिला मण्डी के करसोग में आयोजित जनमंच कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में कई कल्याणकारी योजनाएं क्रियान्वित की जा रही हैं और विभागीय अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि इन कार्यक्रमों और योजनाओं का लाभ सभी पात्र लोगों को मिले। जनमंच के दौरान कुल 146 जन शिकायतें प्राप्त हुई, जिनका जल शक्ति, बागवानी, राजस्व व सैनिक कल्याण मंत्री श्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने विभागीय अधिकारियों की मौजूदगी में मौके पर ही निपटारा कर दिया। इसके अलावा कुल 186 मांगे भी प्राप्त हुईं जिन्हे आगामी निपटारे के लिए संबंधित विभागों को सौंप दिया गया।
बेटी है अनमोल योजना तथा हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के लाभार्थियों को बांटी एफडीआर व गैस कनेक्शन जन मंच के दौरान जल शक्ति मंत्री ने बेटी है अनमोल योजना के अंतर्गत बीपीएल परिवारों की पांच लाभार्थी बेटियों जिनमें सेरटी की तान्या, कोट की वैष्णवी, भनाच की पल्लवी ठाकुर, लोअर करसोग की परिधि तथा सानना गांव की अमायरा सिंह शामिल है को 12-12 हजार रूपये की एफडीआर वितरित कीं। जबकि हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के अंतर्गत सात लाभार्थियों को एलपीजी गैस कनेक्शन भी वितरित किये। प्री जनमंच की रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए एसडीएम करसोग सन्नी शर्मा ने बताया कि इस दौरान लाभान्वित 13 ग्राम पंचायतों में से कुल 59 जन शिकायतें प्राप्त हुईं। साथ ही राजस्व विभाग से जुड़े विभिन्न तरह के 981 प्रमाणपत्र जारी किये गए तथा 145 म्यूटेशन अनुप्रमाणित की गईं। इस बीच 51 एफिडेविट, 65 आधार अपडेशेन, आठ निसानदेही तथा 378 विभिन्न तरह के फार्म को अनुप्रमाणित भी किया गया। प्री-जनमंच के दौरान ही 60 मृदा स्वास्थ्य कार्ड तथा 211 उद्यान कार्ड भी बनाए गए। पशुपालन विभाग के माध्यम से 142 पशुओं का पंजीकरण किया गया तथा 2 स्वास्थ्य शिविर भी लगाए। इसी दौरान विभिन्न विभागों के माध्यम से 37 साईट्स का भी निरीक्षण किया गया। इस बीच 111 विभिन्न मांगे भी प्राप्त हुईं।

जिला शिमला
जिला शिमला की जुब्बल-नावर-कोटखाई में शहरी विकास मंत्री श्री सुरेश भारद्वाज ने जनमंच कार्यक्रम की अध्यक्षता की। जनमंच में 76 समस्याओं के आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें से 73 समस्याओं का मौके पर निपटारा किया गया। लोक निर्माण विभाग से सम्बंधित 18 समस्याएं प्राप्त हुई जिसमें से 17 समस्याओं का मौके पर निपटारा किया गया, जबकि एक समस्या को शीघ्र कार्यवाही के लिए विभाग को भेजी गई। इसके अतिरिक्त विद्युत विभाग से सम्बंधित 27 समस्याएं, परिवहन विभाग की 2, जल शक्ति विभाग की 26, वन विभाग की 2 तथा ग्रामीण विभाग से सम्बंधित एक समस्या प्राप्त हुई, जिनका निपटारा मौके पर ही किया गया। इसके अतिरिक्त कार्यक्रम के दौरान 61 अन्य आवेदन व कुछ मांगे भी प्राप्त हुई है जिन्हें त्वरित कार्यवाही हेतु सम्बन्धित विभागों को भेजा गया है। जनमंच के दौरान स्वास्थ्य विभाग ने 78 व्यक्तियों के स्वास्थ्य की जांच की गई और आवश्यकतानुसार 30 मरीजों के टैस्ट करने के उपरांत दवाइयां भी निःशुल्क वितरित की। इस अवसर पर 43 व्यक्तियों का कोविड वैक्सीन टीकाकरण किया गया। इसके अतिरिक्त राजस्व से सम्बंधित 07 विभिन्न प्रमाण पत्र, 06 इंतकाल भी मौके पर बनाए गए।
जिला हमीरपुर
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्रीमती सरवीन चौधरी ने जिला हमीरपुर के नादौन विधानसभा क्षेत्र की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कांगू में जनमंच कार्यक्रम की अध्यक्षता की। जनमंच में लोगों द्वारा कुल 16 शिकायतें एवं 37 मांगें प्रस्तुत की गई जिनमें से अधिकांश का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया। क्षेत्रवासियों की ओर से 10 शिकायतें और 8 मांगें जनमंच से पहले प्राप्त की गई, जिनका निपटारा जनमंच से पूर्व ही कर दिया गया। जनमंच के दौरान स्वास्थ्य विभाग और आयुष विभाग ने जांच शिविर भी लगाए। स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों ने 133 लोगों, आयुष चिकित्सकों ने 110 और होम्योपैथिक चिकित्सकों ने 39 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की। 31 लोगों के दांतों की भी जांच की गई। 25 कारीगरों को बांस-किट और 10 लड़कियों को दिए 31.31 हजार कार्यक्रम के दौरान मंत्री ने 25 कारीगरों को उद्योग विभाग की ओर से बांस-किट प्रदान किए। उन्होंने 10 गरीब लड़कियों की शादी के लिए शगुन योजना के तहत 31.31 हजार रुपये, बेटी है अनमोल योजना की 5 लाभार्थी कन्याओं को 12.12 हजार रुपये की एफडी के दस्तावेज और चार महिलाओं को गृहिणी सुविधा योजना के तहत मुफ्त गैस कनेक्शन प्रदान किए। सरवीन चैधरी ने प्रधानमंत्री मत्स्य पालन योजना के 5 लाभार्थियों को मोटर साइकिल और आईस बाॅक्स भी भेंट किए।

जिला ऊना
पंचायती राज मंत्री श्री वीरेन्द्र कंवर ने जिला ऊना की कुटलेहड़ विधानसभा क्षेत्र मेें जनमंच अप्पर बसाल के राजकीय माध्यमिक पाठशाला की अध्यक्षता की। प्री-जनमंच में 17 समस्याएं प्राप्त हुई, जबकि जनमंच में 73 शिकायतें मिली। इसके अतिरिक्त क्लस्टर के बाहर की पंचायतों के 12 शिकायतें प्राप्त हुई। जन मंच में कुल 102 जन समस्याएं प्राप्त हुई। जिनमें से अधिकांश शिकायतों का निपटारा सुनिश्चित बनाया गया। बसाल में जन मंच कार्यक्रम के दौरान वैक्सीनेशन कैंप भी लगाया गया, जिसमें 2 लाभार्थियों ने कोविड वैक्सीन की पहली डोज, 29 लाभार्थियों ने दूसरी डोज लगवाई। स्वास्थ्य विभाग ने 51 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की और 28 मेडिकल टेस्ट किए। आयुष विभाग ने 77 लोगों का स्वास्थ्य जांचा। इसके अतिरिक्त 3 किसान प्रमाण पत्र, 12 बोनाफाइड प्रमाण पत्र, 6 बेरोजगारी तथा 3 ओबीसी प्रमाण पत्र भी जारी किए गए। उन्होंने बेटी को गोद लेने वाले परिवारों को गरिमा योजना के तहत जनमंच में जिला प्रशासन की ओर से 21-21 हजार रुपए की एफडी भी प्रदान की। बेटी है अनमोल योजना के तहत विभिन्न क्षेत्रों में उपलब्धियां हासिल करने वाली 5 बच्चियों को उनकी उपलब्धियों के बोर्ड भी प्रदान किए गए।
जिला सोलन
उद्योग मंत्री श्री बिक्रम सिंह ने जिला सोलन की दून विधानसभा क्षेत्र के बनलगी में जनमंच की अध्यक्षता की। उन्होंने निर्देश दिए कि आज के जनमंच के लिए नामित 11 ग्राम पंचायतों में इस सम्बन्ध में जागरूकता शिविर आयोजित किए जाएं ताकि 90 दिन तक मनरेगा के तहत काम करने वाले कामगार अपना पंजीकरण कामगार कल्याण बोर्ड के साथ करवा सकें। जनमंच के दौरान 74 शिकायतें प्राप्त हुईं। इनमें से 27 का निपटारा पूर्व जनमंच कार्यक्रमों में सुनिश्चित बनाया गया। शेष में अधिकांश का मौके पर ही निपटारा किया गया। इसके अतिरिक्त कुल 71 मांगें प्राप्त हुईं। जनमंच में 02 हिमाचली प्रमाण, 11 आय प्रमाण पत्र बनाए गए तथा 21 व्यक्तियों को परिवार रजिस्टर की नकल उपलब्ध करवाई गई। 13 अन्य प्रमाण पत्र जारी किए गए। 14 लोगों का आधार के लिए नामांकन किया गया। 02 हल्फनामें भी बनाए गए। 21 इन्तकाल किए गए। हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के तहत 05 पात्र परिवारों की कागजी कार्यवाही पूरी की। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा आयोजित निःशुल्क जांच शिविर में 184 व्यक्तियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। 30 व्यक्तियों के नेत्र जांचे गए। 40 व्यक्तियों के एक्स-रे किए गए। 31 व्यक्तियों को दिव्यांगता प्रमाण पत्र जारी करने के लिए आवश्यक कार्रवाई की गई। आयुष्मान भारत योजना के तहत 15 व्यक्तियों का नामांकन किया गया। जनमंच में कोविड-19 परीक्षण एवं बचाव टीकाकरण भी किया गया गया तथा 05 व्यक्तियों को पहली खुराक तथा 17 व्यक्तियों को दूसरी खुराक दी गई। कोरोना संक्रमण जांच के तहत 05 व्यक्तियों का रैट परीक्षण किया गया। आयुष विभाग द्वारा आयोजित निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर में 87 लोगों की जांच की गई। पशुपालन विभाग द्वारा आयोजित निःशुल्क जांच शिविर में दूध के 100 नमूने एकत्र किए गए। मल के 80 नमूने एकत्र किए गए। शिविर में 107 पशुओं की जांच की गई।

जिला कुल्लू
शिक्षा मंत्री श्री गोविन्द सिंह ठाकुर ने जिला कुल्लू के आनी विधानसभा क्षेत्र के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला नित्थर में जनमंच के दौरान विभिन्न विभागों से जुड़ी कुल 40 शिकायतें प्राप्त हुईं। इनमें से 34 का मौके पर निपटारा कर दिया गया। शिक्षा मंत्री ने संबंधित अधिकारियों को शेष शिकायतों का समाधान शीघ्र करने के निर्देश दिए।
जिला सिरमौर
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डाॅ. राजीव सैजल जिला सिरमौर की पच्छाद विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत कोटी पधोग की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भडोली में आयोजित जनमंच की अध्यक्षता की। इस अवसर पर विभिन्न विभागों से संबधित कुल 47 शिकायतें प्राप्त हुई,  जिनमें से अधिकतर मामलों का मौके पर ही निपटान कर दिया गया, जबकि शेष मामलों को शीघ्र निपटाने के लिए संबधित विभागों के अधिकारियों निर्देश दिए गए। इस अवसर पर बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के अन्तर्गत लाभार्थियों को उपहार भेंट किए और बेटी है अनमोल योजना के अतंर्गत 12 नवजात बालिकाओं के परिजनों को 12-12 हजार रुपये की एफडीआर भेंट की।  इसके अतिरिक्त विधवा पुनर्विवाह के अन्तर्गत अनीता को 50 हजार की एफडीआर दी गई। उन्होंने हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के अन्तर्गत 200 पात्र महिलाओं को निःशुल्क गैस कनेक्शन वितरित किए। इस अवसर पर राजस्व विभाग द्वारा 75 विभिन्न प्रकार के प्रमाण पत्र जारी किये गए और हिमाचल पथ परिवहन निगम द्वारा मौके पर 160 ग्रीन कार्ड, 8 स्मार्ट कार्ड और 11 सम्मान कार्ड वितरित किए गए। इसके अतिरिक्त स्वास्थ्य विभाग ने 20 लोगों को कोविड वैक्सीन डोज लगाया और 60 रोगियों की स्वाथ्य जांच की व आर्युवैदिक विभाग द्वारा 205 रोगियों के स्वास्थ्य की जांच तथा निःशुल्क दवाईयां वितरित की गई।

जिला बिलासपुर
ऊर्जा मंत्री श्री सुख राम चौधरी ने जिला बिलासपुर के श्रीनैना देवी विधानसभा क्षेत्र के जुखाला में आयोजित जनमंच की अध्यक्षता की। जनमंच में 123 शिकायतें और 48 मांगे रखी गई, जिसमें से प्री जनमंच में 123 शिकायतें और 55 मांगे रखी गई और अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया और शेष शिकायतों को सम्बन्धित विभागों को त्वरित निपटारे के लिए भेजा गया। इस अवसर पर 30 हिमाचली प्रमाणपत्र, 13 अनुसूचित जाति प्रमाणपत्र, 12 आय प्रमाण पत्र, 9 इंतकाल, 6 दिव्यांग प्रमाण पत्र बनाए गए। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 70 व्यक्तियों की स्वास्थ्य जांच की गई, आयुर्वेदिक विभाग द्वारा 100 व्यक्तियों तथा होमोपैथी द्वारा भी 90 व्यक्तियों की स्वास्थ्य जांच की गई। इस अवसर पर ‘बेटी के अनमोल योजना’ के तहत 5 लाभार्थी बेटियों को 12-12 हजार रुपये की एफडीआर प्रदान की।

जिला कांगड़ा
वन एवं खेल मंत्री श्री राकेश पठानिया ने जिला कांगड़ा की नगरोटा बगवां विधानसभा क्षेत्र की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, सेराथाना मेें जनमंच कार्यक्रम की अध्यक्षता की। जनमंच में विभिन्न विभागों से जुड़े कुल  62 मामले प्रेषित हुए, जिनमें से  अधिकांश का मौके पर निपटारा कर दिया गया। शेष सभी समस्याओं का निपटारा अगले 10 दिनों के भीतर सुनिश्चित करने के लिए संबंधित विभागों को निर्देश दिए गए हैं। कार्यक्रम में यह भी अवगत करवाया गया कि जनमंच से पूर्व की अवधि में लोगों की 21 समस्याएं प्राप्त हुईं थीं, इनमें से 17 मामलों का निवारण जनमंच दिवस से पूर्व किया जा चुका है, जबकि शेष समस्याओं के निराकरण पर कार्यवाही जारी है। जनमंच के दौरान स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सा शिविर में करीब  210 लोगों की स्वास्थ्य संबंधी जांच की गई। इसके अतिरिक्त स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों को कोविड वैक्सीन लगाने के लिए भी शिविर लगाया गया था। जिसमें 28 लोगों का टीकाकरण किया गया। आयुर्वेद विभाग द्वारा आयोजित निःशुल्क चिकित्सा शिविर में भी लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गई। कार्यक्रम में विभिन्न विभागों ने स्टाॅल लगाकर लोगों को संबंधित विभागीय सरकारी योजनाओं की जानकारी दी। कार्यक्रम में स्वयं सहायता समूहों द्वारा भी उनके द्वारा तैयार उत्पादों के स्टाॅल लगाये गए थे। वन मंत्री ने नई मुहिम ‘‘एक बूटा बेटी के नाम’’ के तहत राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सेराथाना के नज़दीक सुषमा कुमारी के घर आम्रपाली का पौधा रोपित किया। जनमंच के दौरान छः पात्र परिवारों को मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना के तहत निःशुल्क गैस चुल्हे, बेटी है अनमोल योजना के तहत तीन लाभार्थी बच्चियों के परिजनों को 12-12 हजार रुपये की  तथा शगुन योजना के तहत चार पात्र परिवारों को 31-31 हजार रुपये की एफडीआर भेंट की। उन्होंने  रेडक्राॅस सोसायटी की तरफ से 20 दिव्यांगजनो को विभिन्न यन्त्र वितरित किये।

जिला किन्नौर
खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री श्री राजिन्द्र गर्ग ने जिला किन्नौर के निचार में जनमंच की अध्यक्षता की। जनमंच में 78 शिकायतें प्राप्त हुई  जिनमे  से 26 शिकायतों का मौके पर ही समाधान किया गया तथा 52 शिकायतों के विभिन्न विभागाधिकारियों को शीघ्र निपटारा सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए और इस संबंध में रिपोर्ट खाद्य नागरिक उपभोक्ता मामले के कार्यालय को प्रस्तुत करने को कहा। श्री राजिन्द्र गर्ग ने इस अवसर पर 10 लाभार्थियों को हिमाचल गृहिणी सुविधा योजना के तहत निःशुल्क गैस कनेक्शन प्रदान किए। उन्होंने बेटी है अनमोल योजना के तहत सुंगरा, पौण्डा, निचार व बरी ग्राम पंचायतों में वर्ष 2019 से जन्मी पात्र बालिकाओं की माताओं को एफ.डी. प्रदान की। उन्होंने इस अवसर पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना के तहत निचार, सुंगरा, पौण्डा व बरी पंचायतों में वर्ष 2021 में जन्मी बालिकाओं की माताओं को प्रोत्साहन व बेबी किट भी प्रदान की। जनमंच के दौरान राजस्व विभाग द्वारा 9 इंतकाल, 6 हिमाचली प्रमाणपत्र, 9 जनजातीय प्रमाणपत्र, 3 आय प्रमाणपत्र, 2 चरित्र प्रमाणपत्र प्रदान किये गए। इस दौरान 145 विभिन्न प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा 70 व्यक्तियों की जांच की तथा निःशुल्क दवा वितरित की गई। आयुर्वेदिक विभाग द्वारा 176 लोगों की स्वास्थ्य जांच की गई।

जिला चम्बा
हिमाचल प्रदेश विधानसभा के उपाध्यक्ष श्री हंसराज ने जिला चम्बा के चुराह विधानसभा क्षेत्र भंजराड़ू में जनमंच की अध्यक्षता की। जनमंच कार्यक्रम के दौरान 11 पंचायतों के लोगों द्वारा 304 मांगों और समस्याओं को प्रस्तुत किया गया जिसमें से अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया गया। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग द्वारा विकलांगता प्रमाण पत्र बनाने के लिए शिविर का आयोजन भी किया गया इसमें 14 लोगों के मौके पर  दिव्यांग प्रमाण  पत्र बनाए गए जबकि आयुष और स्वास्थ्य विभाग द्वारा 396 लोगों की स्वास्थ्य जांच और निःशुल्क और दवाइयां वितरित की गई। कार्यक्रम में 30 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। आयुष्मान भारत के तहत 10 लोगों के स्वास्थ्य कार्ड जारी किए गए। इसी तरह चार राजस्व इंतकाल दर्ज किए गए जबकि चार आधार कार्ड भी बनाए गए । कार्यक्रम में 30 पात्र लोगों को विभिन्न पेंशन योजनाओं के तहत चयनित किया गया। इस अवसर पर विधानसभा उपाध्यक्ष ने जनमंच कार्यक्रम के लिए चयनित ग्राम पंचायतों में शेष चार बचे लाभार्थियों को गृहिणी सुविधा योजना के अंतर्गत गैस कनेक्शन वितरित किए। महिला एवं बाल विकास द्वारा कार्यान्वित बेटी है अनमोल योजना के तहत 356 एफडीआर भी वितरित की।
Courtesy: CMO Himachal

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad