हिमाचल बजट: आमदनी और खर्च की खाई पाटने की कोशिश नहीं, हजारों करोड़ के ऋण से होगा बेड़ा पार

उधार लेकर घी पीने की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए जयराम सरकार ने कोरोना काल में माइनस छह फीसदी तक गिरी प्रदेश की विकास दर की सच्चाई को भी किनारे कर अपने चौथे बजट में चुनाव को फोकस कर मतदाताओं का रिझाने का प्रयास किया है।
Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad